लुलु मॉल नमाज विवाद: हनुमान चालीसा पढ़ने जा रहे हिंदूवादी कार्यकर्ताओं से पुलिस की नोकझोंक, 20 लोग हिरासत में

10

लुलु मॉल नमाज विवाद: हनुमान चालीसा पढ़ने जा रहे हिंदूवादी कार्यकर्ताओं से पुलिस की नोकझोंक, 20 लोग हिरासत में

लुलु मॉल में नमाज पढ़े जाने का वीडियो वायरल होने के बाद विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार को कई हिंदूवादी संगठनों के नेता वहां हनुमान चालीसा पढ़ने पहुंच गए।
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। मॉल में शनिवार को हनुमान चालीसा पढ़ने की मांग को लेकर पहुंचे करणी सेना, बजरंग दल और कुछ अन्‍य हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं से पुलिस की नोकझोंक हो गई। इसके बाद पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया। इस दौरान पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों के साथ धक्‍का-मुक्‍की भी हुई।
राष्ट्रीय हिंदू युवा मंच के आदित्य मिश्रा और भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति की सदस्य नेहा सिंह भी मौजूद रहीं। सभी को हिरासत में लेकर पुलिस ने कल्ली पश्चिम रिजर्व पुलिस लाइन भेज दिया गया है। उधर, चारबाग रेलवे स्‍टेशन पर नमाज पढ़े जाने को लेकर हिंदू महासभा के पदाधिकारियों ने ज्ञापन दिया।हिंदू महासभा के पदाधिकारियों ने चेतावनी दी कि सार्वजनिक स्‍थलों पर जहां-जहां नमाज पढ़ी जाएगी, वहां-वहां हम भी सुंदरकांड और हनुमान चालीसा पढ़ेंगे।
इस बीच अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रवक्‍ता शिविर चतुर्वेदी ने नमाज का एक नया वीडियो जारी करते हुए कहा कि लुलु मॉल नहीं लुलु मस्जिद है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि जमीन खरीदकर अलग तरीके से एजेंडा चलाया जा रहा है। बता दें कि इससे पहले नमाज का वीडियो सामने आने के बाद लुलु मॉल के पीआरओ ने थाने में तहरीर दी थी। उनकी तहरीर के आधार पर धारा 153 ए, 295 ए, 341 समेत कई अन्‍य धाराओं में मॉल के अंदर नमाज पढ़ने वालों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पता चला है कि नमाज पढ़ने वालों का मॉल से कोई सम्‍बन्‍ध नहीं था। एफआईआर अज्ञात युवकों के खिलाफ दर्ज की गई है।

National Desk, Ne India News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here