भारत और चीन के बीच LAC को लेकर सैन्य स्तर पर 16वें दौर की बातचीत

9

भारत और चीन के बीच LAC को लेकर सैन्य स्तर पर 16वें दौर की बातचीत

सैन्य स्तर पर जारी बातचीत के बीच वायुसेना प्रमुख बोले- चीनी विमान को LAC के करीब आते देखते हैं तो तो हम अपने लड़ाकू विमानों और सिस्टम को हाई अलर्ट पर रखकर उचित उपाय करते हैं
चीन ने हाल ही एक बार फिर से भारतीय हवाई सीमा का उल्लंघन किया। चीनी वायुसेना के एक विमान ने पूर्वी लद्दाख में तैनात भारतीय जवानों के बेहद करीब से उड़ान भरी। भारतीय वायुसेना ने भी जरूरी कदम उठाए थे।
भारत और चीन के बीच LAC गतिरोध को लेकर सैन्य स्तर पर रविवार को 16वें दौर की बातचीत जारी है। इस बीच वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.आर. चौधरी ने कहा है कि एलएसी पर वायु गतिविधि पर हमारी ओर से लगातार नजर रखी जा रही है। उन्होंने कहा, “जब भी हमें लगता है कि चीनी विमान LAC के बहुत करीब आ रहे हैं, तो हम अपने लड़ाकू विमानों और सिस्टम को हाई अलर्ट पर रखकर उचित उपाय करते हैं। इसने उन्हें डरा दिया है। चीन ऐसा क्यों कर रहा है, इसका कोई एक कारण नहीं बता सकते हैं।”
दरअसल, चीन ने हाल ही एक बार फिर से भारतीय हवाई सीमा का उल्लंघन किया। चीनी वायुसेना के एक विमान ने पूर्वी लद्दाख में तैनात भारतीय जवानों के बेहद करीब से उड़ान भरी। एयर स्पेस में दखलअंदाजी को देखते हुए भारतीय वायुसेना ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर के तहत जरूरी कदम उठाए। यह घटना जून के आखिरी हफ्ते में एलएसी के करीब की बताई गई। मामला सामने आने के बाद भारतीय वायुसेना ने इसको लेकर कड़ी आपत्ति जताई।
भारत और चीन पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर गतिरोध के मुद्दों को हल करने के लिए आज 16वें दौर की उच्चस्तरीय सैन्य वार्ता कर रहे हैं। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एलएसी पर भारतीय सीमा की ओर चुशूल मोल्दो बैठक स्थल पर सुबह करीब साढ़े नौ बजे वार्ता शुरू हुई। भारतीय सेना और चीन की ‘पीपुल्स लिबरेशन आर्मी’ के बीच इस
से पहले 11 मार्च को वार्ता हुई थी। 15वें चरण की वार्ता में कोई ठोस नतीजा नहीं निकला था।
वायु सेना प्रमुख ने कहा कि आधुनिक 4.5 और पांचवीं पीढ़ी के विमानों की क्षमता व्यापक है और उन विमानों को किसी एक भूमिका तक सीमित कर देने से उनका अपेक्षित उपयोग नहीं हो पाएगा।

National Desk, Ne India News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here